जीने की राह दिखाते स्वामी शिवानंद के अनमोल विचार

स्वामी शिवानंद सरस्वती के अनमोल वचन-SWAMI SIVANANDA HINDI QUOTES

स्वामी शिवानंद सरस्वती के अनमोल वचन

यह दुनिया आपकी सबसे अच्छी शिक्षक है। हर कदम पर कुछ न कुछ सिखाती है। प्रत्येक अनुभव में कुछ सीखने लायक है। इससे सीखें और समझदार बनें। हर असफलता सफलता की सीढी है। हर कठिनाई या निराशा आपके विश्वास की परीक्षा है। हर अप्रिय घटना या प्रलोभन आपकी आंतरिक शक्तियों का परीक्षण है।

स्वामी शिवानंद

एक पर्वत धरती के छोटे कणों से मिलकर बना है। महासागर पानी की छोटी बूंदों से बना है। और अपना जीवन भी, छोटे विवरणों, कार्यों, बोली और विचारों की एक अंतहीन श्रृंखला से बना है। और परिणाम चाहे वे अच्छे हों या बुरे, इन छोटी से छोटी चीज़ों के भी दूरगामी होते हैं।

स्वामी शिवानंद

आपको अभी मिलने वाली असफलताओ में भी कुछ अच्छा हैं। यह आप अभी नहीं देख पाएंगे। लेकिन समय के साथ पता चल जाएगा। धैर्य रखें।

स्वामी शिवानंद

किसी ने आपको चोट पहुंचाई है तो उसे बच्चे की तरह भूल जाए। इसे अपने दिल में ना रखें। यह केवल नफरत पैदा करता है।

स्वामी शिवानंद

इसे भी पढ़े: ज़िन्दगी बदलने वाले महर्षि वाल्मीकि के 20 अनमोल वचन

संघर्ष हो तभी जिंदगी का मजा है, जीत या हार तो ऊपर वाले के हाथ में है इसलिए अपने संघर्ष का मजा लीजिए।

स्वामी शिवानंद

स्वामी शिवानंद सरस्वती के अनमोल वचन

अपने छोटे-छोटे कामों में भी दिल, दिमाग और आत्मा सब कुछ लगा दो। यही सफलता का राज है।

स्वामी शिवानंद

अपनी पिछली गलतियों और असफलताओं पर बिलकुल भी उलझे क्योंकि यह केवल आपके मन को दुःख, खेद और अवसाद से भर देगी। बस भविष्य में उन्हें दोहराएं नहीं।

स्वामी शिवानंद

जिंदगी छोटी है। समय क्षणभंगुर है। स्वयं को जाने। हृदय की पवित्रता ईश्वर का प्रवेश द्वार है। महत्वाकांक्षा त्याग और ध्यान। और अच्छा बनो; अच्छा करो। दयालु रहों; उदार बनो। अपने आप से पूछो कि आप कौन हो।

स्वामी शिवानंद

इसे भी पढ़े: 8 चीज़े जो आप कंट्रोल कर सकते हो

नियमित रूप से ध्यान का अभ्यास करें। ध्यान शाश्वत आनंद की ओर ले जाता है। इसलिए ध्यान करो, ध्यान करो

स्वामी शिवानंद

वर्तमान छात्रों की शिक्षा ज्यादातर किताबी है। छात्रों का उद्देश्य उपयोगी व्यावहारिक ज्ञान की वास्तविक शिक्षा से अधिक डिग्री प्राप्त करना है। छात्र बिना किसी निश्चित योजना या उद्देश्य के अपने कॉलेज के करियर से गुजरते हैं।

स्वामी शिवानंद

स्वामी शिवानंद के सुविचार-SWAMI SHIVANANDA QUOTES in Hindi

यदि मन को नियंत्रित किया जाता है, तो यह चमत्कार कर सकता है। यदि इसे वश में नहीं किया जाता है, तो यह अंतहीन दर्द और पीड़ा पैदा करता है।

स्वामी शिवानंद

आज आप जो कुछ भी हैं वह सब आपकी सोच का परिणाम है। आप आपके विचारों से बने है।

स्वामी शिवानंद

वास्तविक शिक्षा का उद्देश्य मन को नियंत्रित करना, अहंकार का नाश करना, दिव्य गुणों को विकसित करना, और ब्रह्म-ज्ञान अर्थात स्वयं को प्राप्त करना है।

स्वामी शिवानंद

हे अमृत के पुत्र, हे अमरत्व के बालक! शक्ति का गीत गाओ। विजय का गीत गाओ। निडर होकर आगे बढ़ो और चमकीले लक्ष्य तक पहुँचो।

स्वामी शिवानंद

आइए! आइए! योग का अभ्यास करें। गंभीरता से ध्यान करें। आप अंधकार और अज्ञान के इस महासागर को पार कीजिये और प्रकाश और जीवन को चिरस्थायी बनाइये।

स्वामी शिवानंद

इसे भी पढ़े: सफल लोगों की ये 5 आदतें आपको भी बनाएगी सुपर सक्सेसफुल

ध्यान केंद्रित करने की मानसिक क्षमता सभी के लिए अंदर है; यह असाधारण या रहस्यमय नहीं है। ध्यान कुछ ऐसा नहीं है जो कोई योगी आपको सिखाएं; आपके पास पहले से ही विचारों को बंद करने की क्षमता है।

स्वामी शिवानंद

यह संसार तुम्हारा शरीर है। यह संसार एक महान विद्यालय है, यह संसार आपका मूक शिक्षक है।

स्वामी शिवानंद

विश्वास प्रार्थना करने के लिए प्रेरित करता है। प्रार्थना व्यक्ति के हृदय को शुद्ध करती है। शुद्ध हृदय में भगवान का प्रकाश प्रकाशित होता है। जब प्रकाश नश्वर को अमर बना देता है

स्वामी शिवानंद

हर बात में कुछ न कुछ सच्चाई होती है। दृष्टिकोण और मत अलग-अलग पहलू हैं। दूसरों से झगड़ा न करें।

स्वामी शिवानंद

स्वामी शिवानंद के प्रेरक कथन

प्रत्येक मनुष्य अपने स्वास्थ्य या बीमारी का कारक खुद हैं

स्वामी शिवानंद

प्रेम को कोई तोहफे की उम्मीद नही होती है। प्रेम को कोई डर नहीं होता। प्रेम केवल देता है – माँग नहीं करता। प्रेम के लिये कोई बुराई नहीं; कोई मकसद नहीं। प्यार करना बांटना और सेवा करना है।

स्वामी शिवानंद

नश्वर चीज़ों में कोई स्थायी सुख नहीं है। अनंत में ही सच्चा आनंद है। भक्ति योग उस अनंत को प्राप्त करने का मार्ग बताता है। यह दिल को साफ करता है, मन को स्थिर करता है, भावनाओं को बढ़ाता है, आवेगों को कम करता है। यह भौतिक इच्छाओं को आध्यात्मिक इच्छाओं में परिवर्तित करता है। यह मनुष्य में पशु को एक परमात्मा में बदल देता है। यह दुनिया के दुखों से लेकर प्रभु की रक्षा करने वाले चरणों तक का ध्यान रखता है।

स्वामी शिवानंद

इसे भी पढ़े: [WARNING] इन्हे आज ही छोड़ दो वरना बाद में पछताओगे

कुछ हृदय-पूर्ण, ईमानदार और ऊर्जावान पुरुष और महिलाएं एक वर्ष में उतना कर लेते हैं जितना एक भीड़ पूरी सदी में नही कर सकती।

स्वामी शिवानंद

मजबूत बनो! भूत और शैतान की बात मत करो। हम जीवित शैतान हैं। जीवन का संकेत शक्ति और विकास है। मृत्यु का संकेत कमजोरी है। जो कमजोर है, उससे बचो! यह मृत्यु है।

स्वामी शिवानंद

दोस्तों ये हैं-स्वामी शिवानंद के अनमोल विचार-Hindi Quotes of Swami Shivananda उम्मीद हैं आप इन्हे पसंद करेंगे, धन्यवाद:)

इन्हे भी पढ़े:

अपना मूल्यवान कमेंट यहाँ लिखे