प्रिंसिपल ने पाठ पढ़ाया हिंदी कहानी

Hindi Funny Story

Hindi kahani

एक दिन एक कॉलेज के चार लड़को ने देर रात तक पार्टी की और खूब मजे किये। लेकिन उनका इस बात पर ध्यान नहीं गया कि अगले दिन उनका क्लास टेस्ट हैं और उन्होंने कुछ पढाई भी नहीं करी।

जब उनको ये पता चला तो उन्होंने प्लान बनाया कि प्रिंसिपल क्या बहाना बताकर भरोसा दिलाये और टेस्ट से छूटकारा पाए।

तो सुबह उन्होंने अपने आपको ग्रीस और धूल से लथपथ कर दिया। और प्रिंसिपल के ऑफिस में पहुंच गए

वहा उन्होंने बताया, ” सर हम कल रात एक शादी में गए थे। शादी से जब वापस लोट रहे थे, तो हमारी कार का टायर बीच रास्ते में ही फट गया था। हम लोग कार को धक्के मार मारकर उसे वापस लाये। इसी चक्कर में हमारी पढाई नहीं हो पायी।

प्रिंसिपल ने उनकी दुखभरी दास्तान सुनी और कुछ सोचा।

Read more: बाज की उड़ान Hindi Motivational story

प्रिंसिपल ने कहा, ” ठीक हैं, मै तुम्हारा 3 दिन बाद टेस्ट लूंगा।”

चारो छात्र मन ही मन खुश हो गए और उन्होंने प्रिंसिपल को धन्यवाद् दिया।

जब 3 दिन बाद टेस्ट का दिन आया, तो चारो प्रिंसिपल के पास गए।

प्रिंसिपल ने टेस्ट के लिए चारो को अलग अलग कमरे मै बिठाया। चारो लड़को को कोई प्रॉब्लम नहीं थी, क्योकि उन्होंने 3 दिन मै कड़ी मेहनत की थी।

उनको पेपर दिया गया। पेपर मे 2 प्रश्न (Questions) थे।
1) आपका नाम________(1 marks)
2) कोनसा टायर फटा था?________(99 marks)
ऑप्शन:
(a) आगे का दाया (b) आगे का बायां
(c) पीछे का दाया (d) पीछे का बाया

टेस्ट के बाद चारो का क्या हुआ होगा, आप अंदाजा लगा सकते हो।

दोस्तों थोड़ी Funny कहानी है, लेकिन इससे भी हम सीख सकते हैं.कि हमे अपने काम के प्रति जिम्मेदार होना चाहिए, और कोई निर्णय भी ले तो बुद्धिमानी के साथ लेना चाहिए।

दोस्तों कैसी लगी ये कहानी हमे कमेंट करके जरूर बताये। और भी बहुत सारी हिंदी नैतिक कहानिया, नैतिक शिक्षा की कहानिया, मोटिवेशनल कहानिया, अच्छी अच्छी कहानिया और प्रेरणादायक कहानिया पढ़ने के लिए यहाँ विजिट करे।आपका इस धाकड़ बाते ब्लॉग पर आने के लिए बहुत बहुत धन्यवाद्।

अगर आपके पास भी कोई प्रेरणादायक लेख, कहानी, निबंध या फिर कोई जानकारी हैं, जो आप हमारे साथ शेयर करना चाहते हैं, तो आप हमे dhakadbaate@gmail.com पर ईमेल कर सकते हैं। पसंद आने पर हम आपके नाम के साथ इस ब्लॉग पर पब्लिश करेंगे। साथ ही आप हमसे जुड़े रहने के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक कीजिये। धन्यवाद!

Read more stories and quotes:

Read more stories and quotes:

अपना मूल्यवान कमेंट यहाँ लिखे