क्या आप नायक बनना चाहते हैं?

नायक बनने के लिए ध्यान रखे 9 बातो का

ek leader ke gun

इस दुनिया में हर कोई नायक बनना चाहता है। लेकिन बाहरी दुनिया का नायक बनने से पहले हमें अपने अंदर का नायक बनना होगा। समझे?…नहीं ना!

चलिए आपको डिटेल में बताते हैं। नायक बनने के लिए किसी भी इंसान में नीचे दिए गए गुण होना आवश्यक हैं:

इसे भी पढ़े:ओवरथिंकिंग (ज्यादा सोचने) से कैसे बचे 

सहनशक्ति और धैर्य जरूरी

अगर नायक बनना है तो अपने अंदर हर चीज को सही जगह, सही समय पर करने का धैर्य होना चाहिए।और हमेशा हर तरह के वातावरण को सहन करने की शक्ति होनी चाहिए।

ऐसा नहीं होना चाहिए कि हम बात बात पर प्रतिक्रिया (react) करने लग जाए। क्योंकि ऐसा करने से हम अपने ही एनर्जी को गंवा बैठते हैं।

नायक वही बनते हैं जिनमें गजब की सहनशक्ति और चट्टानों सा धैर्य होता है।

पॉजिटिव Attitude रखे

हर चीज़ के प्रति सकारात्मक रवैया, आपकी प्रोडक्टिविटी को बढ़ा देगा। ज़िन्दगी की पॉजिटिव साइड को आप अच्छे से महसूस कर पाएंगे। अगर आप पॉजिटिव रहेंगे तो आपको अपने आसपास पाजिटिविटी से भरपूर वातावरण मिलेगा। और नायक बनने के लिए इससे महत्वपूर्ण और क्या हो सकता हैं।

इसे भी पढ़े: अगर सफल होना है तो कम्फर्ट जोन को छोड़ना होगा

खुद का महत्व/मूल्य समझे

खुद को कभी भी दूसरों से कम मत आंकिये। क्योंकि आप ईश्वर की अभूतपूर्व रचना है। आप चाहे जो कर सकते हैं। खुद के आत्मविश्वास को अटल बनाइये। दूसरों से तुलना कभी मत कीजिए। क्योंकि हर किसी की अलग अलग विशेषता होती है। इसलिए अपने आप को महसूस कीजिये कि आप कितने मूल्यवान है।

दूसरों से वफादारी से जुड़ना सीखे

आपको नायक बनने के लिए लोगों से जुड़ना जुड़ना होगा। अपने आप को ऐसी पर्सनालिटी बनाइये ताकि लोग आपसे जुड़ने में दिलचस्पी दिखाएं। नायक बनने के लिए वफादारी का होना बहुत जरूरी है। वफादार इंसान से हर कोई जुड़ना पसंद करता है।

सदैव सम और प्रसन्न रहिए

अच्छा हो या बुरा आपको सभी परिस्थितियों में समान भाव रखना है। सुख के समय ज्यादा इतराना नहीं है और दुख के समय छाती नहीं पीटना है।

किसी महान आदमी ने यह भी कहा है कि

सदैव सम और प्रसन्न रहना, ईश्वर की सर्वोपरि भक्ति है।

अगर आपने यह सदैव सम और प्रसन्न रहने का भाव आ गया। तो समझ लो, आप नायक बनने के लिए तैयार है।

अपने लक्ष्य को स्पष्ट रखे

अपने हर शॉर्ट टर्म टारगेट से लेकर, लोंग टर्म टारगेट को स्पष्ट और लिखित अवस्था में रखें।  इसके लिए आपके पास एक डायरी होनी चाहिए। इस डायरी में आपका हर लक्ष्य लिखा हुआ होना चाहिए। डायरी रोज अपडेट होनी चाहिए और रोज आपको इसको सुबह शाम पढ़ना है।

इसे भी पढ़े: रिश्तो में दूरी: सबसे बड़ा कारण और निवारण

नीतिगत काम करें

आप जो भी काम करें, उससे किसी भले लोगों को हानि नहीं होनी चाहिए। और बेईमानी से नाता नहीं जोड़ना चाहिए। क्योंकि बेईमानी से तुरंत नतीजे तो बढ़िया दिखते हैं लेकिन अगर आपको महान बनना है, आपको नायक बनना है तो आपको ईमानदारी से काम करना होगा।

जीवन में हर चीज का बैलेंस बनाए रखें

अपनी शारीरिक, मानसिक और आध्यात्मिक ऊर्जा का ध्यान रखें। सब की पर्याप्त मात्रा आपके जीवन में जरूर होनी  चाहिए। अपने जीवन में परिवार, दोस्त और अपनी जिंदगी के हर हिस्से के साथ बैलेंस बनाए रखना जरूरी है और सभी को टाइम देना भी जरुरी हैं।

कभी हिम्मत ना हारे

इसे भी पढ़े: प्रकृति के साथ कुछ हसीन लम्हे

आप चाहे जितनी बार असफल हो जाए, आपको दोबारा उठकर दुगुनी शक्ति से फिर प्रयास करना है। फिर भी हारते हो, तो आपको आपको जुगुनी शक्ति से फिर से प्रयास करना है लेकिन हार मान लेना कोई विकल्प (option) नहीं है। यही एक नायक की निशानी है।

सारांश:

आपकी ज़िन्दगी, आपके ऐटिटूड से decide होती हैं। एक नायक बनने के लिए आप इन बातो का ध्यान रखे। और अपने सपनो की ज़िन्दगी जिये। इसके लिए पहल आपको ही करनी हैं। ज़िन्दगी बातो से नहीं, आपके एक्शन से बदलेगी।

उम्मीद हैं आपको ये आर्टिकल बहुत पसंद आया होगा। अगर अच्छा लगा हैं तो हमे कमेंट करके बताइये। ऐसे ही प्रेरणादायक हिंदी लेख, सेल्फ हेल्प हिंदी लेख, सेल्फ इम्प्रूवमेंट हिंदी आर्टिकल और मोटिवेशनल हिंदी आर्टिकल पढने के लिए आप सेल्फ हेल्प आर्टिकल पेज विजिट करे।
हमसे जुड़े रहने के लिए हमारा फेसबुक पेज जरूर लाइक करे।

read more:

One comment

अपना मूल्यवान कमेंट यहाँ लिखे