डिप्रेशन से बाहर निकलने के आसान तरीके

डिप्रेशन से बचने के उपाय

Table of Contents

How to Overcome Depression

कैसे करें अपना डिप्रेशन दूर

आजकल लोगों में डिप्रेशन यानी अवसाद की समस्या होना बेहद आम है। बहुत बार डिप्रेशन इस तरह हावी हो जाता है कि मन में आत्महत्या के विचार भी आने लग जाते हैं। ऐसा लगने लगता है कि आपके लिए सारी दुनिया ही खत्म हो रही हो। डिप्रेशन व्यक्ति को शारीरिक और मानसिक रूप से बहुत कमजोर कर देता है। लेकिन अगर शुरू में ही डिप्रेशन के लक्षण पहचान कर इन्हें दूर करने का प्रयत्न करें तो आप आसानी से डिप्रेशन से छुटकारा पा सकते हैं।

डिप्रेशन से बचने के तरीके

डिप्रेशन के लक्षण

हर इंसान में डिप्रेशन के लक्षण अलग-अलग हो सकते हैं। यहां पर सभी संभावित लक्षण और संकेत दिए गए हैं:

  • हर चीज में नकारात्मक होना।
  • रूखी भावनाएं और चिड़चिड़ापन होना।
  • लगातार खालीपन और उदासी महसूस होना।
  • किसी भी चीज के लिए उत्साह की कमी या रूखी भावनाएं होना।
  • खुद को बेकार, बेबस और अपराधी महसूस करना।
  • इंटरेस्टिंग कामों में भी रुचि नहीं होना।
  • निरंतर ऊर्जा की कमी या थका हुआ महसूस करना।
  • निर्णय न ले पाना या किसी काम में ध्यान ना लगा पाना।
  • चिड़चिड़ापन और बेचैनी होना।
  • ठीक से नींद ना आना।
  • आत्महत्या के ख्याल आना।

डिप्रेशन से बचने के उपाय

दुनिया की किसी भी बीमारी का इलाज हो सकता है, जब इंसान को यह विश्वास हो जाए कि वह उस बीमारी को हरा सकता है। तो दोस्तों सबसे पहले आपको यह विश्वास जगाना होगा कि “हां, मैं इस डिप्रेशन पर काबू पा सकता हूं।”

पहली बात यह है कि डिप्रेशन से बचना बहुत आसान है और दूसरी बात यह है कि आज से खुद को छोटे-छोटे बदलाव के लिए तैयार कर लो।

नीचे जो भी बातें बताई गई हैं उन पर अभी से काम करना शुरू कर दें। आप बहुत जल्दी ही डिप्रेशन को हरा पाएंगे और आप मुझे इस पोस्ट पर वापस धन्यवाद कहने आएंगे।

1. वर्तमान माहौल को तुरंत बदल दे और अकेले ना रहे

अगर अभी आप अकेले रहते हैं तो अपने परिवार के साथ चले जाएं और यदि आप परिवार के माहौल से परेशान हैं तो दोस्तों के साथ घूमने चले जाएं। लेकिन अकेले ना रहे।

यह बहुत जरूरी है आपके विचारों को नई दिशा देने के लिए।

2. अच्छा महसूस करें

आप बोलोगे कि मैं कैसे अच्छा महसूस कर सकता हूं।

ओ भाई! कौन रोक रहा है तुमको अच्छा सोचने से। आपको हर वह चीज देखनी है, करनी है, ढूंढनी है, जो आपको अच्छा महसूस कराती हैं। और नकारात्मक चीजें ना तो देखनी है, ना सोचनी हैं और ना ही करनी हैं।

3. स्वीकार करो और ठान लो कि इसे बदलना है

जब तक आप रोज के ढर्रे से चलते रहोगे तो डिप्रेशन कभी नहीं हट पाएगा। आपको ठान लेना है कि इसे बदलना ही है। अपने आप नए रास्ते दिखेंगे। आपको कुछ रास्ते हम भी बताएंगे।

4. व्यायाम एक्सरसाइज करें या खेल खेलें

रोज दौड़ने जाए। कुछ गेम खेलने हैं लेकिन मोबाइल पर नहीं। जबरदस्त एक्सरसाइज करके खूब पसीना बहाएं। यह आपके डिप्रेशन को काफी हद तक कम कर देगा। इससे आपको दो-तीन दिन में ही फायदा दिखने लग जाएगा। आप अच्छा महसूस करने लगोगे।

5. अपने काम से पर्याप्त ब्रेक लें

लगातार काम करते रहने से भी बोरियत महसूस होती हैं और नकारात्मकता आ जाती है। इससे भी डिप्रेशन की समस्या हो जाती है।
इसलिए अपने काम से छुट्टी लेकर अपनी मनपसंद जगह जाए, किसी अपने के साथ वक्त गुजारे या इस खूबसूरत प्रकृति की सैर करने जाएं।

6. ओवरथिंकिंग(ज्यादा सोचने से) से बचें

अपने दिमाग में फालतू के विचारों को लात मारकर बाहर निकाल दे क्योंकि यह दो कौड़ी के विचार ही है जो आपके दिमाग का सत्यानाश कर रहे हैं।

इसे पढ़े: ओवरथिंकिंग (ज्यादा सोचने) से कैसे बचे

7. अपनों से बात करें, उनसे मदद मांगे

अपनी इस डिप्रेशन की समस्या और इसके कारण के बारे में आप अपने परिवार से, अपने दोस्तों से या फिर जिसे भी आप अपने करीब मानते हैं उनसे शेयर करें और उनसे मदद मांगे। कोई ना कोई रास्ता जरूर निकलेगा।

8. जी भर के सोए

नींद की कमी से भी डिप्रेशन की समस्या हो सकती हैं। इसलिए रोज 7 से 9 घंटे की नींद जरूर लें। नींद का समय रात के 9:00 से सुबह 7:00 बजे के बीच का होना चाहिए और रात को जल्दी नींद नहीं आती हो तो अच्छी सी एक्सरसाइज कर ले। फिर आपको गहरी नींद आ जाएगी और हां आपको सोने से 2 घंटे पहले खाना खाना है। पर्याप्त मात्रा में नींद आपके तनाव को बिल्कुल कम कर देगी।

इसे पढ़े: रात को नींद नहीं आती है?

9. मन शांत करने वाला संगीत सुनें

एक अच्छा संगीत सुनने से आपको बहुत अच्छा महसूस होगा। संगीत में मूड को बदलने और डिप्रेशन से निकालने की अदभुत ताकत होती है। लेकिन गम भरे गाने नही सुने, वरना आपका डिप्रेशन का एक लेवल और बढ़ जाएगा।

10. अच्छी सेल्फ हेल्प किताबें पढ़ें

एक बार आपने किताबों से दोस्ती कर ली तो फिर आप कभी अकेले नहीं रहोगे। मैं यह बात फोकट में नहीं फेंक रहा हूं। अपने अनुभव से बोल रहा हूं।

नीचे दी गई लिंक पर जाकर पहली दो किताबें आप आज से ही पढ़ना शुरू कर सकते हैं। यकीन मानिए ये किताबे आपका पूरा नजरिया बदल देगी। ओर नज़रिया बदलने से आपकी पूरी जिंदगी बदल जाएगी।

इसे पढ़े: जिंदगी बदलने वाली 10 किताबे

11. मुस्कुराइए, यह आपका हक है

अपने बीते कल के सारे दुख दर्द को पीछे छोड़ दें। अभी इस पर बेजान से चेहरे पर मुस्कुराहट लाइये। देखो कितना प्यारा चेहरा लग रहा है…कैसा महसूस हो रहा है….अगर अच्छा महसूस हो रहा है तो मुस्कुराते रहिए।

दोस्त समस्या तो हर रोज है लेकिन मुस्कुराकर जीने में क्या हर्ज है।

So Keep Smiling:)

12. प्रकृति के साथ समय गुजारे

किसी बगीचे में चले जाएं। वहां प्रकृति की खूबसूरती का आनंद उठाएं और इसकी ताजगी भरी हवा को महसूस करें और गहरे गहरे सांस ले। और हाँ…चेहरे पर मुस्कुराहट आपको रखनी ही है।

13. स्वास्थ्यवर्धक भोजन को अपना लें

आपको प्रोटीन विटामिन से भरपूर भोजन करना है। खूब एक्सरसाइज करनी है। रोज आधे घंटे सुबह की धूप में रहना है।

14. योग और ध्यान को जीवन का अंग बना ले

अपने चंचल मन को शांत करने के लिए योग और ध्यान नियमित रूप से करना चाहिए।

सारांश

दोस्तों, यह जिंदगी आपकी बेशकीमती अमानत है। आपको एक वीर योद्धा की तरह इसकी हिफाजत करनी है। आपको डिप्रेशन ही नही ओर भी कई समस्याओं का सामना करना है और उन्हें सुलझाने के तरीके खोजना है।

हो सकता है, अभी आपको मनपसंद नौकरी ना मिल रही हो या अपनी पसंद की कोई चीज ना मिल रही हो या अपने सारे काम उल्टे हो रहे हो। लेकिन आपको एक रास्ते से कामयाबी ना मिल रही हो तो दूसरा अपना लो। लेकिन हार मान लेना, कोई समझदारी नहीं है। एक-दो बार हार से आप की कीमत कम नहीं हो जाती। अरे सैकड़ों बार हारने पर भी नहीं होती हैं। लेकिन हारने के बाद दोगुने उत्साह से फिर उठ खड़े हो जाओ और दुनिया के लिए एक मिसाल कायम करो। और हाँ, कोई कायराना हरकत करने की जरूरत नहीं।

अगर आपको इस पोस्ट से मदद मिली हो हमें कमेंट के द्वारा जरूर बताएं। किसी जरूरतमंद को भी यह पोस्ट शेयर करें, हो सकता हो उन्हें इसकी सख्त जरूरत हो।

इन प्रेरणादायक आर्टिकल को भी पढ़े:

अपना मूल्यवान कमेंट यहाँ लिखे