टॉप 25 हिमा दास के मोटिवेशनल सुविचार

हिमा दास मोटिवेशनल कोट्स

हिमा दास के अनमोल वचन

जो भी करें, अपने दिल से करें। औऱ यह सिर्फ घर पर बैठकर नहीं होगा।

हिमा दास

मुझे पता है कि मेरे परिवार की स्थिति और हमने कैसे संघर्ष किया। लेकिन उस सर्वशक्तिमान के पास हर किसी के लिए कुछ न कुछ है।

हिमा दास

अतीत को भूल जाओ, और मुझसे पूछो कि आगे क्या है।

हिमा दास

मैं तनाव और घबराहट नहीं दिखाती, लेकिन मुझे पता है कि दौड़ से पहले मेरे दिल की धड़कन कितनी तेज़ होती है।

हिमा दास

सब कुछ एक समय पर एक कदम से होता है।

हिमा दास

मैं मैडल के बारे में नहीं सोचती। मैं सिर्फ अपने समय को ऒर बेहतर बनाने के बारे में सोचती हूं।

हिमा दास

मैंने अपना शेड्यूल इस तरह से बनाया है कि जब भी मुझे पढ़ाई से समय मिलता है, मैं अपनी ट्रेनिंग करने लग जाती हूं।

हिमा दास

मेरा एकमात्र उद्देश्य एक ऐसे समय को देखना है जो सभी को याद रहे।

हिमा दास

हिमा दास के अनमोल वचन

जब मैं ट्रैक पर होती हूँ, मैं यह चिंता नहीं करती हूं कि समय क्या हो रहा है या कोई अन्य ट्रैक पर क्या कर रहा है।

हिमा दास

यह एक महान अनुभूति है कि मैं वर्ल्ड जूनियर्स में ट्रैक इवेंट में स्वर्ण पदक जीतने वाली पहली भारतीय हूं।

हिमा दास

मैं एक सकारात्मक व्यक्ति हूं, और मैं जीवन में हमेशा आगे बढ़ना चाहती हूं और अपने माता-पिता और देश के लिए कुछ करना चाहती हूं।

हिमा दास

मैं नहीं बदली, लेकिन लोगों की मेरे प्रति धारणा बदल गई।

हिमा दास

मैं एक सपना जी रही हूं।

हिमा दास

शायद यही एक चीज है जिससे मैं डरती हूं: समय।

हिमा दास

हिमा दास के अनमोल विचार

मैं सोचती हूं कि मुझे तेज और तेज दौड़ना है और मुझे विश्वास है कि यही मेडल के रूप में परिवर्तित हो जाएगा।

हिमा दास

मेरा सबसे बड़ा सपोर्ट और मेरे रीढ़ की हड्डी मेरे दोस्त रहे हैं।

हिमा दास

आखिरकार हम इंसान हैं। सफलता और असफलता हमारे जीवन का एक हिस्सा है।

हिमा दास

जो भी नियम हैं, हमें उनका पालन करना होगा। मुझे इससे कोई समस्या नहीं है।

हिमा दास

यदि आप कुछ महान हासिल करना चाहते हैं, तो आपको इसके लिए कड़ी मेहनत करनी होगी। यह बहुत ही सरल है।

हिमा दास

मैं केवल अपने अभ्यास के बारे में सोचती हूं और जितनी तेजी से हो सके, दौड़ती हूं।

हिमा दास

हिमा दास के प्रेरक कथन

मैं कुछ समय पहले अपने गाँव में नंगे पाँव दौड़ती थी। अब, मेरे पास अपने नाम के साथ एक ब्रांडेड जूता है।

हिमा दास

दबाव बढ़ गया है; मुझे और अभ्यास करना होगा और बेहतर प्रदर्शन करते रहना होगा।

हिमा दास

मेरे करियर की सबसे बड़ी चुनौती हमेशा मेरे दौड़ने के समय में सुधार करना है, और यह हमेशा ऐसा रहेगा।

हिमा दास

मुझे किसी बात का डर नहीं है।

हिमा दास

मैं समय और ईश्वर में विश्वास करती हूं। और मुझे कुछ नहीं परेशान करता है।

हिमा दास

अपना मूल्यवान कमेंट यहाँ लिखे