टॉप 8 चंद्रशेखर वेंकट रमन के सुविचार

सीवी रमन के अनमोल विचार

सीवी रमन के अनमोल विचार

चंद्रशेखर वेंकट रमन भारतीय भौतिक-शास्त्री थे। उनका आविष्कार उनके ही नाम पर रामन प्रभाव (Raman Effect) के नाम से जाना जाता है। 28 फरवरी 1928 को चन्द्रशेखर वेंकट रामन् ने रामन प्रभाव की खोज की थी जिसकी याद में भारत में इस दिन को हर वर्ष ‘राष्ट्रीय विज्ञान दिवस’ के रूप में मनाया जाता है।

प्रकाश के प्रकीर्णन पर उत्कृष्ट कार्य के लिये वर्ष 1930 में उन्हें भौतिकी का नोबेल पुरस्कार दिया गया। सन 1954 में उन्हें भारत सरकार द्वारा भारत रत्न की उपाधि से विभूषित किया गया। इनको 1957 में लेनिन शान्ति पुरस्कार भी प्रदान किया गया था।

आइये सर सीवी रमन के अनमोल विचार देखते है:

सी.वी. रमन के प्रेरक कथन/अनमोल वचन/अनमोल विचार/उद्धरण

आप हमेशा यह चयन नहीं कर सकते हो कि कौन तुम्हारे जीवन में आएगा, लेकिन आप सीख सकते हैं कि वे आपको क्या सबक सिखाते हैं।

चंद्रशेखर वेंकट रमन

मैं अपनी असफलता का मालिक हूं अगर मैं कभी असफल नहीं होता तो मैं इतना सब कुछ कैसे सीखता।

चंद्रशेखर वेंकट रमन

सही सवाल पूछें, और प्रकृति अपने सभी रहस्यों के द्वार खोल देगी।

चंद्रशेखर वेंकट रमन

आपके सामने मौजूदा कार्य के लिए दमदार समर्पण से आप सफलता पा सकते है।

चंद्रशेखर वेंकट रमन

मेरा दृढ़ता से मानना ​​है कि मौलिक विज्ञान को अनुदेशात्मक, औद्योगिक और सरकार या सैन्य दबावों द्वारा संचालित नहीं किया जाना चाहिए।

चंद्रशेखर वेंकट रमन

चंद्रशेखर वेंकट रमन के अनमोल वचन

अगर मेरे से सही से पेश आए तो आपका जीवन प्रकाशमय है और अगर गलत तरीके से पेश आए तो अंधकारमय होना निश्चित है

चंद्रशेखर वेंकट रमन

अगर कोई आपको जज करता है, तो खुद के दिमाग को खराब कर रहा है …लेकिन सबसे अच्छी बात है, यह उनकी समस्या है।

चंद्रशेखर वेंकट रमन

आधुनिक भौतिक विज्ञान की पूरी रूपरेखा पदार्थ के परमाणु या आणविक संरचना की मौलिक परिकल्पना पर बनी है।
The whole edifice of modern physics is built up on the fundamental hypothesis of the atomic or molecular constitution of matter.

चंद्रशेखर वेंकट रमन

अपना मूल्यवान कमेंट यहाँ लिखे