टॉप 13 अजीम प्रेमजी के प्रेरणादायक विचार

अजीम प्रेमजी के अनमोल वचन

अजीम प्रेमजी के प्रेरक कथन

आज लाखों बच्चे हैं जो स्कूल नहीं जाते हैं। हालाँकि, शिक्षा ही भारत में आगे बढ़ने का एकमात्र तरीका है।

अजीम प्रेमजी

एक बालिका जो थोड़ी भी पढ़ी-लिखी है, वह परिवार नियोजन, स्वास्थ्य देखभाल और अपने बच्चों शिक्षा के प्रति अधिक जागरूक होती है।

अजीम प्रेमजी

मुद्रास्फीति गरीबी रेखा को ऊपर ले जा रही है, और गरीबी केवल आर्थिक रूप से ही नही होती बल्कि स्वास्थ्य और शिक्षा से भी होती है।

अजीम प्रेमजी

यदि लोग आपके लक्ष्यों पर नहीं हंस रहे हैं, तो आपके लक्ष्य अभी बहुत छोटे हैं।

अजीम प्रेमजी

दो बार सफलता पानी होती है। एक बार मन में और दूसरी बार वास्तविक दुनिया में।

अजीम प्रेमजी

जब बाहर दुनिया मे परिवर्तन की दर, आपके अंदर से अधिक है, तो सुनिश्चित कर ले कि आपका अंत निकट है।

अजीम प्रेमजी

कभी-कभी अपने जीवन में इतना कुछ हासिल हो जाता है कि आप खुद सोचने लगते हैं, क्या मैं इसके योग्य हूँ भी या नहीं?

अजीम प्रेमजी

अजीम प्रेमजी के सुविचार

यह बेहद जरूरी है कि हमें अपने अंदर छुपे उन गुणों का और उर्जा का भी पूरा अहसास होना चाहिए जोकि ईश्वर ने हर एक को नवाज रखा है।

अजीम प्रेमजी

हममें से जिन्हें भी धन प्राप्ति का विशेष सौभाग्य प्राप्त है, उनको उन प्रयासों मे अपना महत्वपूर्ण योगदान करना चाहिए, जिससे लाखों लोगों के लिए एक बेहतर दुनिया बन सके, जो इस विशेष सौभाग्य से वंचित हैं।

अजीम प्रेमजी

मेहनत से कमाया हुआ एक रुपया अपनी क़ीमत व क़दर में उन दस रुपयों से बेहतर है जो हमें बिना प्रयास के मिल जाएं।

अजीम प्रेमजी

जीत उन्हीं लोगो के भाग्य में होती है जिन्हें अपने जीतने का विश्वास हो… देर सवेर, लोग अपनी सफलता की चाबी खुद ही होते है।

अजीम प्रेमजी

सफलता खुशी का कारण होती है लेकिन हमें इसे अपने ऊपर इस तरह हावी नहीं होने देना चाहिए कि यह अहंकार बन जाए।

अजीम प्रेमजी

हमेशा इस बात को ध्यान में रखिए कि सफल होने के लिए हमारे खुद का संकल्पित होना किस अन्य चीज की तुलना में सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण है।

अजीम प्रेमजी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *