टॉप 16 विराट कोहली के धुआंधार सुविचार

विराट कोहली के मोटिवेशनल कोट्स

विराट कोहली के अनमोल विचार

आत्मविश्वास और कड़ी मेहनत से आप हमेशा सफलता प्राप्त करेंगे।

विराट कोहली Virat Kohali

मुझे दबाव में खेलना पसंद है। वास्तव में, अगर कोई दबाव नहीं है, तो मैं सही क्षेत्र में नहीं हूं।

विराट कोहली Virat Kohali

मुझे खुद बनना पसंद है, और मैं ढोंग नहीं करता।

विराट कोहली Virat Kohali

आप जो भी करना चाहते हैं, उसमे पूरी लगन के साथ कड़ी मेहनत करें। कहीं और मत देखिये। थोड़े विचलित होंगे, लेकिन यदि आप स्वयं के प्रति सच्चे हैं, तो आप निश्चित रूप से सफल होंगे।

विराट कोहली Virat Kohali

मैं हमेशा भारत के लिए हाथ मे बल्ला और खेल जीतने का सपना देखता था। यही मेरी प्रेरणा थी कि मैं क्रिकेट खेलूं।

विराट कोहली Virat Kohali

मैं हमेशा आगे बढ़कर नेतृत्व करना पसंद करता हूं और जो भी मेरे साथ या मेरे आसपास खेल रहा है उसके लिए एक उदाहरण सेट करता हूं। मुझे जिम्मेदारियां लेना पसंद है। यह मेरी स्वाभाविक बात है।

विराट कोहली Virat Kohali

विराट कोहली के अनमोल विचार

एक फिट बॉडी आपको आत्मविश्वास देती है। और एक महान दृष्टिकोण से अधिक प्रभावशाली कुछ भी नहीं है।

विराट कोहली Virat Kohali

बल्ला कोई खिलौना नहीं है, यह एक हथियार है। यह मुझे जीवन में सब कुछ देता है, जो मुझे मैदान पर सब कुछ करने में मदद करता है।

विराट कोहली Virat Kohali

मैं ईश्वर में विश्वास करता हूं। लेकिन आप मुझे किसी मंदिर में नही देखोगे। मैं आत्मज्ञान में विश्वास करता हूं। मन की शांति मेरे लिए बहुत मायने रखती है।

विराट कोहली Virat Kohali

मेरा मुख्य फोकस हमेशा भारतीय क्रिकेट टीम का मैदान पर अच्छा प्रदर्शन कराना है। जब लोग मैदान से मेरे बारे में अच्छी बातें कहते हैं, तो मैं उन्हें स्वीकार करने से ज्यादा खुश हूं।

विराट कोहली Virat Kohali

विराट कोहली के अनमोल वचन

अभिमान एक घटिया मजाक है जिसे आप खुद खेलते हैं। इसे बाहर निकालो। अपनी ताकत पहचानो, अपनी कमजोरियों पर काम करो।

विराट कोहली Virat Kohali

मैं अपने निजी जीवन में तनावमुक्त रहना चाहता हूं। मैं वास्तव में परेशान होना पसंद नहीं करता।

विराट कोहली Virat Kohali

जब आप बल्लेबाजी करने जाते हैं तो आपको अपने दिमाग को ताजा और खाली रखना पड़ता है। अगर आपने दिमाग मे उलझने भर रखी है तो गए काम से।

विराट कोहली Virat Kohali

विराट कोहली के प्रेरक कथन

चाहे आपमें प्रतिभा हो या न हो, मेहनत करनी पड़ती है। केवल प्रतिभाशाली होने का कुछ भी मतलब नहीं है।

विराट कोहली Virat Kohali

मैं जो भी हूं, यह स्वाभाविक है…मुझे आक्रामक होने का दिखावा करने की जरूरत नहीं है, विपक्ष को यह दिखाने की जरूरत नहीं है कि मैं मैदान पर हूं। आक्रामक होना स्वाभाविक रूप से मेरे में है, और यह मुझे प्रदर्शन करने में मदद करता है।

विराट कोहली Virat Kohali

दुनिया में कोई भी क्रिकेट टीम एक या दो खिलाड़ियों पर निर्भर नही रह सकती। पूरी टीम हमेशा जीतने के लिए खेलती है।

विराट कोहली Virat Kohali

Leave a comment