बॉलीवुड Movies मोटिवेशनल डायलॉग part-1

Posted by

1. बुलंदी (Bulandi):

खुदी को कर बुलंद इतना… कि हर तक़दीर से पहले, खुदा बन्दे से खुद पूछे, बता तेरी रज़ा क्या हैं।

2. धूम 3 (Dhoom 3):

बन्दे हैं हम उसके, हम पे किसका ज़ोर…

उम्मीदों के सूरज, निकले चारों और…

इरादे है फौलादी, हिम्मती हर कदम…

अपने हाथो किस्मत लिखने, आज चले हैं हम।

3. 3 इडियट्स  (3 Idiots):

बेटा काबिल बनो, काबिल.. कामयाबी तो साली झक मार के तुम्हारे पीछे आएगी ।

4. मांझी-The Mountain Men:

यही कहेंगे कि भगवान के भगवान के भरोसे मत बैठिये…क्या पता भगवान हमरे भरोसे बैठा हों।

5. वन्स अपॉन अ टाइम इन मुंबई  (Once Upon A Time In Mumbai):

जो अपने बीते कल से भागता हैं वो ज़िन्दगी कि रेस कभी नहीं जीतता हैं।

6. गुलाम  (Gulam):

बहती लहरों के साथ तो हर कोई तैर लेता हैं, लेकिन असली इंसान तो वो होता हैं जो लहरों को चीर कर आगे निकल जाए।

7. रंग दे बसंती  (Rang De Basanti):

ज़िन्दगी जीने के दो ही तरीके होते हैं

एक तो ये कि जो हो रहा हैं होने दो, बर्दाश्त करते जाओ

या फिर ज़िम्मेदारी उठाओ, उसको बदलने की।

8. लक बाय चांस  (Luck By Chance):

मौके मिलते नहीं….बनाये जाते हैं…कामयाबी हम तक नहीं आती हमे कामयाबी तक जाना होता हैं।

9. एक विलन  (Ek Villain):

नफ़रत को नफ़रत नहीं, सिर्फ प्यार मिटा सकता हैं… बस ज़रुरत हैं किसी के हाथ की.. जो खींच कर उसे अंधेरों में से उजालों में ला सके।

10. आशिकी 2  (aashiqui 2):

अपनी कामयाबी को इतना छोटा मत समझो… सिर्फ नसीब वालो को नसीब होती हैं ये।

11. कल हो या न हो  (Kal Ho Na Ho):

तुम्हारे पास जो है तुम्हारे हिसाब से कम हैं.. लेकिन किसी दुसरे कि नज़र से देखो… तुम्हारे पास बहुत कुछ हैं।

12. ये जवानी हैं दिवानी  (Ye Jawani Hain Deewani):

मैं उड़ना चाहता हूँ, दौड़ना चाहता हूँ, गिरना भी चाहता हूँ, बस रुकना नहीं चाहता।

13. बाज़ीगर (baazigar):

कभी कभी जीतने के लिए कुछ हारना भी पड़ता हैं, और हार कर जीतने वाले को बाज़ीगर कहते हैं।

14. आवारापन  (awarapan):

जिनके अपने सपने पुरे नहीं होते हैं, वो दूसरों के सपने पूरे करते है।

Movies के inspirational डायलाग का पार्ट 2 नीचे दी गई लिंक से पढ़े

बॉलीवुड Movies मोटिवेशनल डायलॉग part-2

दोस्तों कैसा लगा ये कलेक्शन हमे कमेंट के द्वारा जरूर बताये।

Leave a comment